Follow us on
Monday, September 27, 2021
BREAKING NEWS
Chandigarh

शिक्षा के क्षेत्र में हिंदी भाषा का विशेष योगदान, समय के साथ हिंदी का विकास जरूरी

September 15, 2021 06:28 AM

चंडीगढ़ (सोनिया अटवाल) - हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य पर पंजाब यूनिवर्सिटी के हिन्दी विभाग के द्वारा एक विशेष कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें केंद्रीय हिन्दी निदेशालय, नई दिल्ली के पूर्व उप -निदेशक डॉ भगवती प्रसाद निदारिया का देवनागरी लिपि और हिन्दी वर्तनी का मानकीकरण विषय पर विशेष व्याख्यान हुआ। डॉ निदारिया ने लगभग 35 वर्षों तक देवनागरी लिपि और हिन्दी वर्तनी पर कार्य किया है। उन्होंने भारत सरकार की नियमावली को सामने रखते हुए अपने अनुभवों के आधार पर देवनागरी लिपि और हिन्दी वर्तनी के मानकीकरण से जुड़े अनेक पक्षों को उदाहरण सहित विवेचित किया।

उन्होंने बताया कि हिन्दी वर्तनी का मानकीकरण समय की माँग होने के साथ हिन्दी के विकास के लिए जरूरी है। इस मानकीकरण में कहीं भी कृत्रिमता नहीं है और न ही पांडित्यप्रदर्शन का स्पर्श है। गुरु गोबिंद सिंह महाविद्यालय सैक्टर -26 की प्रोफेसर डॉ आराधना ने भी स्वरचित हिन्दी कविता सुनाकर श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया। प्रोफेसर नीरजा सूद ने विद्वान् वक्ता का धन्यवाद किया। विभागाध्यक्ष प्रोफेसर बैजनाथ प्रसाद ने विद्यार्थियों को निरंतर हिन्दी सीखने के लिए संकल्प कराया।

पीजीजीसीजी-42 में भी लेखन प्रतियोगिता हुई आयोजित:

स्नातकोत्तर राजकीय कन्या महाविद्यालय सैक्टर-42 की प्राचार्या प्रो.(डॉ.) निशा अग्रवाल के कुशल मार्गदर्शन में  और हिन्दी विभाग के अध्यक्ष प्रो.(डॉ.) लखवीर सिंह के कुशल नेतृत्व एवं हिन्दी विभाग के शिक्षकों के भगीरथ प्रयास से 7 सितम्बर से हिन्दी दिवस के उपलक्ष्य में साप्ताहिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसका समापन मंगलवार को महाविद्यालय के आई.टी. ब्लॉक के मल्टीमीडिया में हुआ। यह कार्यक्रम दो चरणों में रखा गया था, प्रथम चरण में 7 से 13 सितम्बर तक ऑनलाइन गतिविधियों में स्लोगन लेखन, पोस्टर मेकिंग, कहानी लेखन, निबन्ध लेखन, गीत गायन, कविता लेखन आदि प्रतियोगिताएं करवाई गई ।

कार्यक्रम का आरम्भ मंच संचालक डॉ. संगम वर्मा ने मुख्य अतिथियों का स्वागत करते हुए कहा कि आज हिन्दी भाषा के साथ हमें चाहिए हम अपनी बोलियों को और अच्छे से जाने यदि हमने इन्हें बचा लिया हमारी भाषा स्वत: बच जाएगी। इसके बाद पुरस्कार वितरण में महाविद्यालय की प्राचार्या प्रो.(डॉ.) निशा अग्रवाल विशेष अतिथि के तौर पर शामिल हुईं और उन्होंने सभी छात्राओं को इस समारोह में भाग लेने पर बधाई दी और उन्हें सम्मानित किया।

जीजीडीएसडी कॉलेज में हिंदी भाषा के विस्तार पर हुई चर्चा:

गोस्वामी गणेश दत्त सनातन धर्म महाविद्यालय में हिन्दी विभाग एवं सेंट्रल बैंक ऑफ इंडिया (शाखा सैक्टर 32)के संयुक्त तत्त्वावधान में हिन्दी दिवस का आयोजन किया गया। इस कार्यक्रम में हिन्दी भाषा के बढ़ते हुए विस्तार के बारे में चर्चा की गई। इस कार्यक्रम में वर्तमान समय में हिंदी की उपादेयता विषय पर डॉ॰ गुरमीत सिंह (पूर्व अध्यक्ष ,हिंदी विभाग ,पंजाब विश्वविद्यालय) ने अपना व्याख्यान दिया। उन्होने अपने व्याख्यान में हिंदी भाषा में शिक्षा और रोजगार के बारे में बताया।

इसी के साथ उन्होंने वैश्विक धरातल पर हिंदी की स्थिति तथा अनुवाद के क्षेत्र में हिंदी के महत्व को अपने वक्तव्य में प्रस्तुत किया। इस कार्यक्रम मे कॉलेज प्रबन्धक समिति के जनरलसेक्रेटरी डॉ अनिरुद्ध जोशी ने अपने विचार व्यक्त करते हुए बताया कि हिंदी को राजभाषा का दर्जा कैस ेमिला।  कॉलेज के प्राचार्य डॉ अजय शर्मा ने भी राष्ट्रभाषा को बढ़ावा दिया उन्होंने राष्ट्रीय शिक्षा नीति के बारे में बात की तथा हिंदी को सम्पर्क भाषा बताया।  इसी के साथ उन्होंने शिक्षा केक्षेत्र में हिंदी के योगदान पर विचार व्यक्त किया। हिंदी विभागाध्यक्षा डॉ प्रतिभा कुमारी ने राष्ट्रभाषा हिंदी की महत्ता और हिंदी के लिए स्वतंत्रता सेनानियों के योगदान पर विचार व्यक्त किये और हिंदी भाषा को अपनाने पर बल दिया। मंच का संचालन डा ॅदेवी सिंह ने किया। 

सुंदर स्लोगन लिख छात्रों ने दिखाया हिंदी भाषा के प्रति प्रेम:

शारदा सर्वहितकारी मॉडल सीनियर सेकेंडरी स्कूल सेक्टर 40 डी में हिंदी दिवस मनाया गया। इस अवसर पर बच्चों ने बहुत सुंदर सुंदर स्लोगन लिखें एवं हिंदी भाषा के प्रति अपने प्रेम को दर्शाते हुए छोटी छोटी स्वरचित कविताएं लिखी। कक्षा चौथी के छात्रों ने कविता लेखन में, पांचवी कक्षा के छात्रों ने अंताक्षरी और सुलेख प्रतियोगिता में तथा दूसरी कक्षा के छात्रों ने काव्य गायन एक्टिविटी में बढ़ चढक़र हिस्सा लिया।

ऑनलाइन कक्षा के दौरान अरुण कक्षा के छात्रों के कुछ अभिभावकों ने हिंदी दिवस पर पोस्टर बनाकर विद्यालय परिवार को बधाई दी। विद्यालय के निदेशक बीएस कवर ने हिंदी भाषा के महत्व के बारे में सभी को बताया एवं प्रधानाचार्या अर्चना ने सभी आचार्यौं तथा तथा बच्चों को अधिक से अधिक हिंदी भाषा का प्रयोग करने के लिए प्रेरणा दी।

Have something to say? Post your comment
More Chandigarh News
पीयू सीनेट चुनाव का पहला फेज संपन्न, चंडीगढ़ में हुआ 8.65 फ़ीसदी मतदान पीजीआई में 17 महीने बाद आज से शुरू होगी वॉक इन ओपीडी बापूधाम कालोनी में आयोजित हुआ फ्री मेडिकल लंगर माइक्रोसॉफ्ट ने फ्यूचर रेडी टैलेंट प्रोग्राम की शुरुआत की नगर निगम सदन में आज फिर गरमा सकता है पेड पार्किंग में स्मार्ट फीचर न होने का मामला नगर निगम चुनाव में 700 से ज्यादा होंगे मतदान केंद्र नए वेतनमान से वंचित यूनिवर्सिटी और कॉलेजों के हजारों शिक्षकों के लिए उम्मीद का किरण बने चन्नी सुखना लेक पर हुए एयर शो में विमानों की तेज गड़गड़ाहट ने लोगों को किया रोमांचित चंडीगढ़ से शारजाह की सीधी फ्लाइट आज से होगी शुरू, एयरपोर्ट पर कोविड टेस्ट अनिवार्य सुखना लेक पर हुई एयर शो की रिहर्सल, आसमान में गूंजी लड़ाकू विमानों की आवाज़