Follow us on
Thursday, May 19, 2022
BREAKING NEWS
ISSF Junior World Cup: म्हारी छोरियों ने जर्मनी में गोल्ड पर लगाया निशानायमुनानगर: नगर निगम ने अपनाई गांधीगिरी, हाथ जोड़कर अतिक्रमण करने वालों को समझायाज्ञानवापी विवाद: बबीता फोगाट का ट्वीट- लिखा, मोदी है तो मुमकिन है, यूजर्स ने किया ट्रोलUttarakhand में 48 घंटों से ज्यादा समय तक फंसे पर्वतारोहियों को ITBP ने बचायायमुनानगर: जिले में धर्म परिवर्तन करवाई गई लड़की की सनातन धर्म में करवाई घर वापसीRohini अदालत में न्यायाधीशों के chamber के पास लगी आग शीना बोरा हत्या मामला: उच्चतम न्यायालय ने आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को दी जमानतयमुनानगर: हार्डवेयर व पेंट की दुकान में लगी भयंकर आग, धमाका, मचा हड़कंप
Punjab

भगवंत मान द्वारा ड्रग माफिया पर नकेल डालने के लिए एस.एस.पीज़ और पुलिस कमीशनरों को एस.टी.एफ. के साथ तालमेल करके काम करने के हुक्म

May 14, 2022 07:21 AM

चंडीगढ़ - पंजाब में नशे की बीमारी पर नकले डालने के लिए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने आज राज्य के समूह एस.एस.पीज़/पुलिस कमीशनरों को ड्रग माफिया चला रही बड़ी मछलियों को काबू करने के लिए सांझा कार्यवाही शुरु करने के लिए नशा विरोधी टास्क फोर्स (एस.टी.एफ.) के साथ तालमेल करके काम करने के हुक्म दिए।

आज प्रातः काल यहाँ पंजाब भवन में डिप्टी कमीशनरों और ज़िला पुलिस मुखियों की उच्च स्तरीय मीटिंग के दौरान मुख्यमंत्री ने स्पष्ट शब्दों में कहा कि यदि राज्य के किसी भी हिस्से से नशे की सप्लाई की कोई भी घटना उनके ध्यान में आती है तो इसके लिए सीधे तौर पर सम्बन्धित एस.एस.पी. या पुलिस कमीशनर की जवाबदेही तय होगी। मुख्यमंत्री ने पुलिस अधिकारियों को यह भी कहा कि यदि किसी व्यक्ति की तरफ से नशे की तस्करी संबंधी कोई शिकायत दर्ज करवाई जाती है तो उस पर तुरंत कार्यवाही की जाये। उन्होंने कहा कि नशे के ख़ात्मे के लिए किसी भी कीमत पर कोई ढील बर्दाश्त नहीं की जायेगी क्योंकि नशे का शिकार हो चुके नौजवानों को बचाने के लिए इसकी सप्लाई लाईन को तोड़ना होगा।

राज्य भर में नशा तस्करों के विरुद्ध शिकंजा कसने की ज़रूरत पर ज़ोर देते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि निर्धारित समय के दौरान ख़ास कर व्यापारिक वसूली के मामलों में चालान पेश न होने के कारण ज़मानत हो जाने की सूरत में सख़्त कार्यवाही की जायेगी।

 नशा तस्करों के साथ घी-खिचड़ी होने वाले लोगों के प्रति कोई लिहाज़ न बरतते हुये मुख्यमंत्री ने नशा तस्करों को संरक्षण देने वाले कसूरवार पुलिस अधिकारियों को सजा देने के लिए कारगर विधि तैयार करने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया।

मुख्यमंत्री ने डी.जी.पी. को बरामदगी के दौरान ज़ब्त किये गए नशे की कीमत अंतरराष्ट्रीय बाज़ार में प्रसारित न करने के लिए सभी ज़िला पुलिस मुखियों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करने के निर्देश दिए हैं क्योंकि यह प्रक्रिया भोले-भाले लोगों को जल्दी पैसा कमाने के लिए आकर्षित करती है। हालाँकि, उन्होंने कहा कि ज़ब्त की गई मात्रा, बरामदगी वाली जगह और मुलजिमों के विवरणों सम्बन्धी बाकी जानकारी सार्वजनिक की जा सकती है।

भगवंत मान ने स्वास्थ्य और पुलिस विभागों को मामूली अपराधियों के प्रति सुधारवादी पहुँच अपनाने पर ध्यान केंद्रित करने के लिए नजदीकी से तालमेल के साथ काम करने के लिए कहा। उन्होंने बताया कि नशे में ग्रसित लोगों को उनकी रिहायश से 5 से 6 किलोमीटर के दायरे में इलाज के लिए सुविधाजनक पहुँच प्राप्त करने के लिए ओ.ओ.ए.टी. क्लिनिकों की संख्या मौजूदा 208 से बढ़ा कर तुरंत 500 की जा रही है। उन्होंने नशे की बीमारी को त्याग चुके नौजवानों की सेवाएं लेने की ज़रूरत पर भी ज़ोर दिया, जिसके अंतर्गत वह नशे के आदी लोगों के साथ नशा छोड़ने संबंधी अपने जीवन के तजुर्बों को सांझा करेंगे जो उनको नशे से दूर रहने के लिए मददगार साबित होगा।

उन्होंने डी.जी.पी. को जांच प्रणाली भी मज़बूत करने के लिए कहा जिससे ड्रग माफिया में शामिल दोषियों को जल्द से जल्द मिसाली सजा दी जा सके। उन्होंने कहा कि यह कदम दूसरों को भविष्य में नशे की बिक्री में शामिल होने से तौबा करने में सहायक होगा। मुख्यमंत्री ने डी.जी.पी. को ड्रग माफिया में शामिल लोगों की जायदादें ज़ब्त करने की प्रक्रिया में तेज़ी लाने के लिए भी कहा। इस सम्बन्धी ढीली रफ़्तार पर चिंता ज़ाहिर करते हुये भगवंत मान ने डी.जी.पी. को हरेक महीने ज़ब्त की जायदादों की प्रगति की निजी तौर पर निगरानी करने और उस अनुसार उनको अवगत करवाते रहने के लिए कहा।

नशे की रोकथाम के कदमों के तौर पर भगवंत मान ने डिप्टी कमीशनरों /ज़िला पुलिस मुखियों के इलावा एस.डी.एमज़ और डी.एस.पीज़. की तरफ से अपने-अपने अधिकार क्षेत्र में ख़ास कर अधिक प्रभावित गाँवों के निरंतर दौरे किये जाने की ज़रूरत पर ज़ोर दिया। इसी तरह गाँवों और वार्डों में खेल के बुनियादी ढांचों के कायाकल्प करने के साथ-साथ खेल गतिविधियों, टूर्नामैंटों और युवा मेले करवाने के लिए प्रयास तेज करने के लिए विशेष ध्यान दिया जाना चाहिए जिससे नौजवानों की ऊर्जा को रचनात्मकता की तरफ़ लगाया जा सके जिससे वह नशे से दूर रह सकें। लोगों में भरोसे की भावना पैदा करने के लिए हरेक जिले में नशा मुक्त गाँव ऐलाना जाना चाहिए।

पंजाबी गायकों की तरफ से फैलाए जा रहे बंदूक सभ्याचार और गैंगस्टरवाद के रुझान की निंदा करते हुये भगवंत मान ने उनको अपने गीतों के द्वारा समाज में हिंसा, नफ़रत और दुश्मनी को भड़काने से गुरेज़ करने की अपील की। उन्होंने गायकों को न्योता दिया कि वह ऐसे गीतों के द्वारा समाज विरोधी गतिविधियों को तुल देने की बजाय पंजाब, पंजाबी और पंजाबियत के मूल्यों पर चलते हुये भाईचारक सांझ, शांति और सदभावना की जड़ों को और मज़बूत करने के लिए योगदान डालें।

भगवंत मान ने इन गायकों को कहा कि वह पंजाब की अमीर   सांस्कृतिक विरासत को प्रफुल्लित करने के लिए रचनात्मक भूमिका निभाएं जिस संबंधी इसको विश्व भर में जाना जाता है। उन्होंने कहा कि यह हमारा फ़र्ज़ बनता है कि ऐसे गायकों को अपने गीतों के द्वारा हिंसा फैलाने की इजाज़त न दी जाये जो अक्सर नौजवानों ख़ास कर जल्दी प्रभावित होने वाले बच्चों को बिगाड़ते हैं। उन्होंने आगे कहा कि हम पहले तो उनको ऐसे रुझान को आगे न बढ़ाने की अपील करते हैं, नहीं तो सरकार उनके विरुद्ध सख़्त कार्यवाही करेगी।

इसके उपरांत मुख्यमंत्री ने डिप्टी कमीशनरों को धान की सीधी बुवाई (डी.ऐस.आर.) की तकनीक को उत्साहित करने के लिए व्यापक स्तर पर जागरूकता मुहिम शुरू करने के लिए कहा जिससे भूजल के तेज़ी से गिरते स्तर को बचाया जा सके और इसके इलावा किसानों को गर्मी ऋतु की मूँगी और बासमती की बुवाई करने के लिए उत्साहित किया जाये जिससे फ़सलीय विभिन्नता को बढ़ावा मिलेगा।

 
Have something to say? Post your comment
More Punjab News
मुख्यमंत्री द्वारा अपनी किस्म के पहले निवेकले प्रोग्राम लोक मिलनी की शुरूआत मुख्यमंत्री की पानी बचाने की अपील को राज्य के किसानों द्वारा मिला भरपूर समर्थन मोहाली विस्फोट मामले में पांच गिरफ्तार, पुलिस ने कहा- बब्बर खालसा, आईएसआई के बीच साठगांठ राज्य सभा चुनाव भारत निर्वाचन आयोग द्वारा पंजाब राज्य से राज्य सभा चुनाव के लिए कार्यक्रम का ऐलान BIG BREAKING : मोहाली में ब्लास्ट के बाद अब चली गोलियां भगवंत मान ने 26,754 पद भरने के लिए व्यापक स्तर पर भर्ती मुहिम शुरू करने के तुरंत बाद 2,373 युवाओं को नियुक्ति पत्र सौंपे इंटेलीजेंस विंग हैडक्वार्टर में हुए धमाके के मद्देनज़र भगवंत मान ने स्थिति का लिया जायज़ा नड्डा 14 मई को लुधियाना आएंगे Bhagwant Mann ने PRTC चालक के परिजन को 50 लाख रुपये का मुआवजा देने का आदेश दिया परनीत कौर अब कांग्रेस का हिस्सा नहीं - वडिंग