Follow us on
Friday, August 19, 2022
BREAKING NEWS
Kerala : मुस्लिम लीग के महासचिव का विवादित बयान, बोले लड़के-लड़कियों का स्कूल में साथ बैठना खतरनाकपंजाब: RTA संगरूर में वाहनों के Fitness Certificate घोटाले का पर्दाफाश, 40,000 रुपए और दस्तावेज़ के साथ तीन व्यक्ति गिरफ़्तारपंजाब की मंत्री डॉ बलजीत कौर मुक्तसर में खुद करेंगी नेत्र शिविर में मरीजों की जांच पंजाब: पटियाला को मिलेगा 24 घंटे पानी, जल सप्लाई प्रोजेक्ट एक साल में मुकम्मल करने के निर्देशIndri: डॉ0 सचिन काम्बोज ने किसानों को प्राकृतिक खेती के बारे में दी जानकारीहिमाचल प्रदेश सरकार ने बागवानों के हितों को दी प्राथमिकता: CM जयराम ठाकुरMBBS छात्र को ब्लैकमेल कर 10 लाख रुपये ऐंठते महिला समेत तीन गिरफ्तारहरियाणा की बेटी रीना भट्टी ने माउंट एल्ब्रुस पर फहराया तिरंगा, सीएम खट्टर ने ट्वीट कर दी बधाई
Business

वीएफएस कैपिटल की पोर्टफोलियो 1,500 करोड़ रुपये तक पहुंचाने की योजना

June 26, 2022 08:08 AM

कोलकाता (भाषा) - वीएफएस कैपिटल की अगले कुछ वर्षों में प्रबंधन-अधीन परिसंपत्ति (एयूएम) का आकार 803 करोड़ रुपये से बढ़ाकर 1,500 करोड़ रुपये तक ले जाने की योजना है और इसके लिए वह देश भर में अपनी शाखाओं की संख्या बढ़ाने जा रही है।

वीएफएस कैपिटल के प्रबंध निदेशक एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी कुलदीप मैती ने शुक्रवार रात को यहां एक कार्यक्रम में यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि वीएफएस कैपिटल अब राजस्थान में भी अपनी मौजूदगी दर्ज कराने जा रही है।

उन्होंने कहा कि फिलहाल देश भर में कंपनी की 247 शाखाएं मौजूद हैं और इस वित्त वर्ष के अंत तक 35 नई शाखाएं खोलने की योजना है। कंपनी देश के 13 राज्यों में परिचालन कर रही है। वीएफएस कैपिटल को पहले विलेज फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड के नाम से जाना जाता था।

मैती ने कहा कि कोविड-19 महामारी के पिछले दो वर्षों में कंपनी ने कारोबार बढ़ाने के बजाय किफायती आवास एवं एमएसएमई क्षेत्र को कर्ज मुहैया कराने पर ध्यान दिया। अब कंपनी अपने विस्तार पर ध्यान दे रही है।

 
Have something to say? Post your comment
More Business News
आयकर विभाग ने रिटर्न भरने संबंधी एफएक्यू जारी किया 5जी स्पेक्ट्रम की नीलामी का चौथा दिन, अबतक 1,49,623 करोड़ रुपये की बोलियां प्राप्त सीईएसएल 16 राजमार्गों, एक्सप्रेसवे पर इलेक्ट्रिक वाहनों के लिए चार्जिंग स्टेशन लगाएगी कर्मचारियों की हड़ताल से लुफ्थांसा की 1,000 से अधिक उड़ानें रद्द भारत को स्वच्छ ऊर्जा निर्यातक बनाने में मदद करेगा 70 अरब डॉलर का निवेश - गौतम अडाणी बिजली संयंत्रों में ईंधन के रूप में बायोमास के इस्तेमाल की योजना बनाएं राज्य - सरकार उभरते बाजारों, विकसित अर्थव्यवस्थाओं की मुद्राओं की तुलना में रुपया अपेक्षाकृत बेहतर स्थिति में - दास नीति आयोग के नवाचार सूचकांक में प्रमुख राज्यों की श्रेणी में कर्नाटक शीर्ष स्थान पर सरकार ने ईंधन निर्यात, घरेलू कच्चे तेल पर अप्रत्याशित लाभ कर घटाया अनाज, दाल, आटे के 25 किलो से कम वजन के पैक महंगे हुए, पांच प्रतिशत जीएसटी लागू