Follow us on
Tuesday, June 18, 2024
BREAKING NEWS
विधानसभा उपचुनाव के लिए जालंधर शिफ्ट होंगे पंजाब CM भगवंत मानBreaking : दिल्ली में जलसंकट से बुरा हाल, दो दिन से वजीराबाद प्लांट से NDMC को नहीं मिला एक भी बूंद पानीनिर्जला एकादशी व्रत में सेहत का रखें ऐसे ध्यान: प्यास लगेगी कम, तबीयत रहेगी ठीकमहाराष्ट्र: पालघर में महिला की चाकू घोंपकर हत्या, एक हिरासत मेंवायनाड लोकसभा उपचुनाव में उम्मीदवार उतारेगी भारतीय कम्युनिस्ट पार्टीराजस्थान में भीषण गर्मी का कहर जारी, अनेक इलाकों में लू की चेतावनीEntertainment News : अल्लू अर्जुन की अपकमिंग फिल्म छह दिसंबर को होगी रिलीजनिर्जला एकादशी व्रत 2024: ऐसे मनाएं यह बड़ा दिन, इन बातों का रखें ध्यान
Editorial
जब अमेरिका में नाइट क्लब पहुंचे अटल बिहारी वाजपेयी, फिर क्या क्या हुआ आप भी क्लिक कर जाने पूर्व PM की पहली यात्रा के बारे में
जब अमेरिका में नाइट क्लब पहुंचे अटल बिहारी वाजपेयी, फिर क्या क्या हुआ आप भी क्लिक कर जाने पूर्व PM की पहली यात्रा के बारे में 
आप भी जान ले ये जरूरी सूचना: दुनियाभर में टाइप 2 मधुमेह के 1.4 करोड़ मामलों का संबंध खराब आहार से

आप भी जान ले ये जरूरी सूचना: दुनियाभर में टाइप 2 मधुमेह के 1.4 करोड़ मामलों का संबंध खराब आहार से

हर बीमारी से लड़ने और इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करते है ये 3 योगासन, जानें...

आजकल ज्यादातर लोग दिनभर बैठे रहते है या फिर शरीर को चलाते नहीं है, जिससे जीवनशैली बुरी तरह से प्रभावित हो रही है। जिसके कारण शरीर में

विदेश में ऐसा कानून, जिसमें ऐसा होने पर... छीन लिए जाते है माता- पिता से बच्चे
विदेश में ऐसा कानून, जिसमें ऐसा होने पर...  छीन लिए जाते है माता- पिता से बच्चे
बल्लेबाज जिस तरह सिर्फ गेंद पर ध्यान केंद्रित करता है, छात्र भी वैसा ही करें : PM मोदी

बल्लेबाज जिस तरह सिर्फ गेंद पर ध्यान केंद्रित करता है, छात्र भी वैसा ही करें : मोदी

1896 में हुई थी आधुनिक ओलम्पिक खेलों की शुरूआत - योगेश कुमार गोयल

ओलम्पिक खेलों की शुरूआत करीब 2796 वर्ष पूर्व ग्रीस में जीयस के पुत्र हेराकल्स द्वारा की गई मानी जाती है किन्तु ऐसी धारणा है कि यह खेल उससे भी काफी पहले से ही खेले जाते रहे थे। 776 ईसा पूर्व विधिवत रूप से शुरू हुए ओलम्पिक खेलों का सिलसिला उसके बाद निर्बाध रूप से 393 ई. तक अर्थात् 1169 वर्षों तक चलता रहा। इन खेलों के माध्यम से ऐसा प्रदर्शन किया जाता था, जो मानव की शक्ति, गति एवं ऊर्जा का परिचायक माना जाता था। प्राचीन ओलम्पिक खेलों का आयोजन ईश्वर को श्रद्धांजलि देने के लिए किया जाता था।

बालश्रम: 20 वर्ष बाद भी नहीं सुधरे हालात - योगेश कुमार गोयल

बालश्रम की समस्या पूरी दुनिया के लिए एक गंभीर चुनौती बनी है। हालांकि इस समस्या के समाधान के लिए बालश्रम पर प्रतिबंध लगाने हेतु कई देशों द्वारा कानून भी बनाए गए हैं लेकिन फिर भी स्थिति में अपेक्षित सुधार दिखाई नहीं देता। बालश्रम के प्रति विरोध, इसके लिए लोगों को जागरूक करने, बालश्रम की क्रूरता तथा बालश्रम को पूरी तरह समाप्त करने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 12 जून को दुनियाभर में ‘बालश्रम निषेध दिवस’ मनाया जाता है।

आग उगलती धरती: दोषी प्रकृति या हम? - योगेश कुमार गोयल

पूरी दुनिया आज तमाम तरह की सुख-सुविधाएं और संसाधन जुटाने के लिए किए जाने वाले मानवीय क्रियाकलापों के कारण ग्लोबल वार्मिंग जैसी भयावह समस्या से त्रस्त है। इसीलिए पर्यावरण की सुरक्षा तथा संरक्षण के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 5 जून को पूरी दुनिया में ‘विश्व पर्यावरण दिवस’ मनाया जाता है।

Bobby Deol अभिनीत ‘आश्रम’ Web series के तीसरे सीजन का Premiere जून में

मुंबई: फिल्मकार प्रकाश झा निर्देशित वेब सीरीज ‘आश्रम’ का तीसरा सीजन 3 जून को एमएक्स प्लेयर पर रिलीज होगा। एमएक्स प्लेयर की तरफ से शुक्रवार को इसकी घोषणा की गई। इस शो में अभिनेता Bobby Deol बाबा निराला की मुख्य भूमिका में हैं। पिछले साल अक्टूबर में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने इस सीरीज के सेट पर कथित तौर पर तोड़फोड़ की थी और झा पर स्याही भी फेंकी थी। संगठन का आरोप था कि झा हिंदुओं को गलत तौर पर पेश कर रहे हैं।

इस महिला ने 10वीं बार फतह की Everest चोटी, अपना ही Record तोड़ा

उन्होंने कहा कि वह (शेरपा) स्वस्थ हैं और सुरक्षित नीचे उतर रही हैं। 48 वर्षीय लक्पा शेरपा को कभी औपचारिक शिक्षा प्राप्त करने का मौका नहीं मिला, क्योंकि उन्हें चढ़ाई करने के लिए गियर और ट्रेकर्स की आपूर्ति कर जीविकोपार्जन करना पड़ता था।

Navodaya School entrance Exam: नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा 30 अप्रैल को

धर्मशाला (विजयेन्दर शर्मा ): जवाहर नवोदय विद्यालय पपरोला की प्रधानाचार्य रेणु शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि कि जवाहर नवोदय विद्यालय, पपरोला में सत्र 2022-23 के लिए छठी कक्षा में प्रवेश हेतु 30 अप्रैल, 2022 को परीक्षा आयोजित की जाएगी।

हिन्द की चादर गुरू तेग बहादुर - योगेश कुमार गोयल

सिखों के 8वें गुरू हरिकृष्ण राय की अकाल मृत्यु हो जाने के बाद तेग बहादुर को नवां गुरू बनाया गया था, जिनके जीवन का प्रथम दर्शन ही यही था कि धर्म का मार्ग सत्य और विजय का मार्ग है। सिखों के नवें गुरू तेग बहादुर सदैव सिख धर्म मानने वाले और सच्चाई की राह पर चलने वाले लोगों के बीच रहा करते थे, जिन्होंने न केवल धर्म की रक्षा की बल्कि देश में धार्मिक आजादी का मार्ग भी प्रशस्त किया।

सरपंच पति, पार्षद पति का मिथक तोडती महिलाएं - डॉ. राजेन्द्र प्रसाद शर्मा

सरपंच पति, प्रधान पति, प्रमुख पति, महापौर पति या इस तरह के जो नए शब्द डिक्शनरी में ईजाद हुए थे वे सब बीते जमाने की बात होती जा रही है। महिलाएं अब सभी क्षेत्रों में मुखर होती जा रही है। उत्तरप्रदेश के हालिया चुनावों से एक बात साफ हो गई है कि महिलाएं अब पुरुषों की पिछलग्गू होने के स्थान पर निर्णायक भूमिका में आ गई है। मजे की बात यह कि शहरी महिलाओं की तुलना में ग्रामीण महिलाएं दो कदम आगे हैं। माने या ना माने पर इसमेें कोई दो राय नहीं होनी चाहिए कि यूपी के चुनावों में महिलाओं ने खास ही नहीं बल्कि निर्णायक भूमिका निभाई है।

वतन के लिए त्याग और बलिदान की मिसाल थे भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरू - योगेश कुमार गोयल

अंग्रेजों से भारत को आजाद कराने के लिए स्वतंत्रता आंदोलन में अनेक वीर सपूतों ने अपने प्राण न्यौछावर किए और उनमें से बहुतों के बलिदान को प्रतिवर्ष किसी न किसी अवसर पर स्मरण भी किया जाता है लेकिन हर साल 23 मार्च का दिन शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है, जो देश की स्वतंत्रता के लिए लड़ते हुए हंसते-हंसते अपने प्राण न्यौछावर करने वाले तीन वीर सपूतों का शहीद दिवस है। 

जीरो बजट प्राकृतिक खेती भारत की खाद्य सुरक्षा के लिए खतरा, अब MSP गारंटी कानून से टिकाऊ खेती प्रोत्साहन है समाधान - डा वीरेन्द्र सिंह लाठर सरकार ने 12 से 14 साल के बच्चों के कोविड टीकाकरण के लिए दिशा-निर्देश जारी किए PAKvAUS live: आस्ट्रेलिया ने 506 रन का लक्ष्य दिया, पाकिस्तान के 2 विकेट पर 104 रन हरित ऊर्जा क्रांति अब एक विकल्प नहीं मजबूरी है - नरविजय यादव मातृभाषाओं को बनाएं शिक्षा का माध्यम - अरुण कुमार कैहरबा जिंदगी में चलना सीख लिया तो चलती रहेगी जिंदगी - नरविजय यादव तेजस: लाइक ए डायमंड इन द स्काई - योगेश कुमार गोयल संक्रांति के दिन राष्ट्र को आह्वाहन - रजतभाटिया अस्तित्व खोती देवभाषा संस्कृत को बचाने के हों समुचित प्रयास - योगेश कुमार गोयल आम आदमी की आवाज बुलंद करते एंग्रीमैन पम्मा - योगेश कुमार गोयल ओलम्पिक में उम्मीद बंधाते भारतीय पहलवान - योगेश कुमार गोयल हिमाचल में प्राकृतिक आपदाओं का कहर, 9 पर्यटकों की की दर्दनाक मौतें तीन घायल - नरेन्द्र भारती पीरूसिंह की बहादुरी से डर गया था पाकिस्तान - रमेश सर्राफ धमोरा डिजिटल इंडिया-जहां ज्ञान ही शक्ति है - अमिताभ कांत मानवता को राष्ट्रवाद से बड़ा मानते थे रवीन्द्रनाथ टैगोर - योगेश कुमार गोयल उनकी चिंता और हमारी बेफिक्र - सुरेन्द्र कुमार महामारी को भुनाते मानवता के दुश्मन - डा. राजेन्द्र प्रसाद शर्मा भाजपा की महत्वाकांक्षाओं को बड़ा झटका - योगेश कुमार गोयल ऑफ़लाइन शिक्षा से वर्चुअल सीखने के लिए लेकिन कक्षा के लिए कोई प्रतिस्थापन नहीं - विजय गर्ग वैक्सीनेशन का विस्तार, कोरोना पर प्रहार - सुरेन्द्र कुमार स्वतंत्र लेखक न्याय और समानता पर आधारित व्यवस्था के लिए अथक संघर्ष करने वाले युगपुरूष डॉ. आंबेडकर - अरुण कुमार कैहरबा नौकरी करते हुए प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें - विजय गर्ग कैच द रेन: वर्षा जल सहेजने के लिए संजीदगी जरूरी, समय रहते समझें पानी की महत्ता - योगेश कुमार गोयल नाचो-गाओ, खुशियां मनाओ कि आई बैसाखी - योगेश कुमार गोयल तृणमूल कांग्रेस बनाम निर्वाचन आयोग अक्षय राम सेतु के लिए चले अयोध्या विनेश फिर बनी दुनिया की नंबर एक महिला पहलवान - योगेश कुमार गोयल बजट से अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती - मयंक मिश्रा कोविड वैक्सीन: भारतीयों को अपने वैज्ञानिकों पर सबसे ज्यादा भरोसा, टीकाकरण में दुनिया की सबसे बड़ी ताकत बना भारत - योगेश कुमार गोयल भारत की स्वास्थ्य सेवा नीति: महामारी के अलावा - अबिनाश दास