Follow us on
Thursday, May 19, 2022
BREAKING NEWS
ISSF Junior World Cup: म्हारी छोरियों ने जर्मनी में गोल्ड पर लगाया निशानायमुनानगर: नगर निगम ने अपनाई गांधीगिरी, हाथ जोड़कर अतिक्रमण करने वालों को समझायाज्ञानवापी विवाद: बबीता फोगाट का ट्वीट- लिखा, मोदी है तो मुमकिन है, यूजर्स ने किया ट्रोलUttarakhand में 48 घंटों से ज्यादा समय तक फंसे पर्वतारोहियों को ITBP ने बचायायमुनानगर: जिले में धर्म परिवर्तन करवाई गई लड़की की सनातन धर्म में करवाई घर वापसीRohini अदालत में न्यायाधीशों के chamber के पास लगी आग शीना बोरा हत्या मामला: उच्चतम न्यायालय ने आरोपी इंद्राणी मुखर्जी को दी जमानतयमुनानगर: हार्डवेयर व पेंट की दुकान में लगी भयंकर आग, धमाका, मचा हड़कंप
Editorial
Bobby Deol अभिनीत ‘आश्रम’ Web series के तीसरे सीजन का Premiere जून में

मुंबई: फिल्मकार प्रकाश झा निर्देशित वेब सीरीज ‘आश्रम’ का तीसरा सीजन 3 जून को एमएक्स प्लेयर पर रिलीज होगा। एमएक्स प्लेयर की तरफ से शुक्रवार को इसकी घोषणा की गई। इस शो में अभिनेता Bobby Deol बाबा निराला की मुख्य भूमिका में हैं। पिछले साल अक्टूबर में बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने इस सीरीज के सेट पर कथित तौर पर तोड़फोड़ की थी और झा पर स्याही भी फेंकी थी। संगठन का आरोप था कि झा हिंदुओं को गलत तौर पर पेश कर रहे हैं।

इस महिला ने 10वीं बार फतह की Everest चोटी, अपना ही Record तोड़ा

उन्होंने कहा कि वह (शेरपा) स्वस्थ हैं और सुरक्षित नीचे उतर रही हैं। 48 वर्षीय लक्पा शेरपा को कभी औपचारिक शिक्षा प्राप्त करने का मौका नहीं मिला, क्योंकि उन्हें चढ़ाई करने के लिए गियर और ट्रेकर्स की आपूर्ति कर जीविकोपार्जन करना पड़ता था।

Navodaya School entrance Exam: नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा 30 अप्रैल को

धर्मशाला (विजयेन्दर शर्मा ): जवाहर नवोदय विद्यालय पपरोला की प्रधानाचार्य रेणु शर्मा ने जानकारी देते हुए बताया कि कि जवाहर नवोदय विद्यालय, पपरोला में सत्र 2022-23 के लिए छठी कक्षा में प्रवेश हेतु 30 अप्रैल, 2022 को परीक्षा आयोजित की जाएगी।

हिन्द की चादर गुरू तेग बहादुर - योगेश कुमार गोयल

सिखों के 8वें गुरू हरिकृष्ण राय की अकाल मृत्यु हो जाने के बाद तेग बहादुर को नवां गुरू बनाया गया था, जिनके जीवन का प्रथम दर्शन ही यही था कि धर्म का मार्ग सत्य और विजय का मार्ग है। सिखों के नवें गुरू तेग बहादुर सदैव सिख धर्म मानने वाले और सच्चाई की राह पर चलने वाले लोगों के बीच रहा करते थे, जिन्होंने न केवल धर्म की रक्षा की बल्कि देश में धार्मिक आजादी का मार्ग भी प्रशस्त किया।

सरपंच पति, पार्षद पति का मिथक तोडती महिलाएं - डॉ. राजेन्द्र प्रसाद शर्मा

सरपंच पति, प्रधान पति, प्रमुख पति, महापौर पति या इस तरह के जो नए शब्द डिक्शनरी में ईजाद हुए थे वे सब बीते जमाने की बात होती जा रही है। महिलाएं अब सभी क्षेत्रों में मुखर होती जा रही है। उत्तरप्रदेश के हालिया चुनावों से एक बात साफ हो गई है कि महिलाएं अब पुरुषों की पिछलग्गू होने के स्थान पर निर्णायक भूमिका में आ गई है। मजे की बात यह कि शहरी महिलाओं की तुलना में ग्रामीण महिलाएं दो कदम आगे हैं। माने या ना माने पर इसमेें कोई दो राय नहीं होनी चाहिए कि यूपी के चुनावों में महिलाओं ने खास ही नहीं बल्कि निर्णायक भूमिका निभाई है।

वतन के लिए त्याग और बलिदान की मिसाल थे भगत सिंह, सुखदेव, राजगुरू - योगेश कुमार गोयल

अंग्रेजों से भारत को आजाद कराने के लिए स्वतंत्रता आंदोलन में अनेक वीर सपूतों ने अपने प्राण न्यौछावर किए और उनमें से बहुतों के बलिदान को प्रतिवर्ष किसी न किसी अवसर पर स्मरण भी किया जाता है लेकिन हर साल 23 मार्च का दिन शहीद दिवस के रूप में मनाया जाता है, जो देश की स्वतंत्रता के लिए लड़ते हुए हंसते-हंसते अपने प्राण न्यौछावर करने वाले तीन वीर सपूतों का शहीद दिवस है। 

जीरो बजट प्राकृतिक खेती भारत की खाद्य सुरक्षा के लिए खतरा, अब MSP गारंटी कानून से टिकाऊ खेती प्रोत्साहन है समाधान - डा वीरेन्द्र सिंह लाठर

दुखद कि वैज्ञानिक तथ्यो के विपरीत, सरकार द्वारा किसान विरोधी व देशद्रोही जीरो बजट अवैज्ञानिक प्राकृतिक खेती का भ्रमजाल देश मे जानबूझकर फैलाया जा रहा है ! सार्वजनिक धन व संसाधनों के दुरुपयोग से केन्द्र व राज्य सरकारों द्वारा देश को रासायनिक खेती से बचाने के  छद्मरूप उद्देश्य से, इस अव्यवहारिक खेती को बढ़ावा देने की मुहिम छेड़ रखी है ! ध्यान रखने की बात यह है कि प्राकृतिक खेती के पैरोकार कृषि वैज्ञानिक-अधिकारी नहीं, बल्कि पाखंडी बाबाओं का समूह है!

सरकार ने 12 से 14 साल के बच्चों के कोविड टीकाकरण के लिए दिशा-निर्देश जारी किए

दिल्ली: केंद्र सरकार ने 16 मार्च से शुरू हो रहे 12 से 14 साल के बच्चों के कोविड-19 टीकाकरण के लिए मंगलवार को दिशा-निर्देश जारी किए। सरकार ने स्पष्ट किया कि इस आयु वर्ग के बच्चों को सिर्फ कोर्बेवैक्स टीका लगाया जाएगा। 

PAKvAUS live: आस्ट्रेलिया ने 506 रन का लक्ष्य दिया, पाकिस्तान के 2 विकेट पर 104 रन

Desk: 15 मार्च आस्ट्रेलिया ने दूसरे क्रिकेट टेस्ट के चौथे दिन मंगलवार को यहां पाकिस्तान को 506 रन का लक्ष्य देने के बाद लंच तक मेजबान टीम का स्कोर एक विकेट पर 18 रन करके अपना पलड़ा भारी रखा। अनुभवी आफ स्पिनर नाथन लियोन ने मंगलवार को अपनी पांचवीं ही गेंद पर इमाम उल हक (01) को पगबाधा किया।

हरित ऊर्जा क्रांति अब एक विकल्प नहीं मजबूरी है - नरविजय यादव

हमारे पास एक ही धरती है और इसे बचाना ही होगा। विकास के नाम पर बीते दशकों में पृथ्वी और प्रकृति के साथ जो छेड़छाड़ हुई वो बहुत भारी पड़ सकती है। ग्लोबल वॉर्मिंग के दुष्प्रभाव सामने आने लगे हैं और दुनिया के सभी देशों को इस ओर ध्यान देना होगा। भारत के लिए आने वाले दस साल चुनौतीपूर्ण लेकिन उम्मीदों से भरे हैं। 

मातृभाषाओं को बनाएं शिक्षा का माध्यम - अरुण कुमार कैहरबा

भाषा केवल विचारों व भावनाओं को अभिव्यक्त करने का ही साधन नहीं होती। यह चिंतन करने और विचार निर्माण का भी आधार होती है। किसी भी समाज की संस्कृति भाषा से निर्मित व मुखरित होती है। भाषा हमें पहचान देती है। वैसे तो दुनिया में बोली जाने वाली सभी करीब सात हजार भाषाएं महत्वपूर्ण हैं। 

जिंदगी में चलना सीख लिया तो चलती रहेगी जिंदगी - नरविजय यादव

बंगलौर हवाईअड्‌डे पर फ्लाइट का इंतजार करते हुए मुझे काफी देर ठहरना पड़ा। मौसम की खराबी के चलते उड़ान में विलंब हो रहा था। टहलते हुए बुक शॉप में पहुंच गया, तो एक पोस्टर पर निगाह अटक गई, जिस पर लिखा था – इफ यू डॉन्ट टेक टाइम फॉर यौर वैलनेस, यू विल बी फोर्स्ड टु टेक टाइम फॉर यौर इलनैस। बात सही लगी, यदि आप अपनी सेहत के लिए समय नहीं निकालेंगे तो आपको अपनी बीमारी के लिए समय निकालने के लिए मजबूर होना पड़ेगा। 

तेजस: लाइक ए डायमंड इन द स्काई - योगेश कुमार गोयल

15 से 18 फरवरी तक आयोजित सिंगापुर एयर शो के पहले ही दिन स्वदेश निर्मित हल्के लड़ाकू विमान एलसीए तेजस ने लो-लेवल एयरोबैटिक्स डिस्प्ले में हिस्सा लेकर सिंगापुर के आसमान में गर्जना करते हुए अपनी कलाबाजियों से न सिर्फ तमाम लोगों को मंत्रमुग्ध कर दिया बल्कि अपने पराक्रम और मारक क्षमता की पूरी दुनिया के समक्ष अद्भुत मिसाल भी पेश की। 

संक्रांति के दिन राष्ट्र को आह्वाहन - रजतभाटिया

संक्रांति का अर्थ है सम्यक् दिशा में क्रांति अर्थ योग्य दिशा में चिंतन कर सकारात्मक परिवर्तन से सामाजिक जीवन का उन्नयन करना।पश्चिम संस्कृति के इतिहास में क्रांति का अर्थ केवल रक्तपात लूटपाट आदि से है परन्तु सनातन संस्कृति के इतिहास में क्रांति का अर्थ सामाजिक उन्नति के लिए विभिन्न कालखंडों में माँ भारती के वीर सपूतों द्वारा किए गए प्रगति कार्य से हैं, जिसमें महाराणा प्रताप, छत्रपति शिवाजी,पृथ्वीराज चौहान, बप्पा रावल, गुरु गोबिंद सिंह, विवेकानंद, दयानंद सरस्वती, सुभाष चन्द्र बोस, और अनगिनत व्यक्तित्व शामिल हैं जिन्होंने अपने स्वार्थ को त्याग सामाजिक विषमताओं को दूर कर सामाजिक उद्धार का कार्य किया।समाज में क्रांति सैद्धांतिक विचार से उत्पन्न होकर,  विचार की पूर्णता की योजना   बना कार्य पद्धति द्वारा लक्ष्य प्राप्ति से होती है।

अस्तित्व खोती देवभाषा संस्कृत को बचाने के हों समुचित प्रयास - योगेश कुमार गोयल आम आदमी की आवाज बुलंद करते एंग्रीमैन पम्मा - योगेश कुमार गोयल ओलम्पिक में उम्मीद बंधाते भारतीय पहलवान - योगेश कुमार गोयल हिमाचल में प्राकृतिक आपदाओं का कहर, 9 पर्यटकों की की दर्दनाक मौतें तीन घायल - नरेन्द्र भारती पीरूसिंह की बहादुरी से डर गया था पाकिस्तान - रमेश सर्राफ धमोरा डिजिटल इंडिया-जहां ज्ञान ही शक्ति है - अमिताभ कांत मानवता को राष्ट्रवाद से बड़ा मानते थे रवीन्द्रनाथ टैगोर - योगेश कुमार गोयल उनकी चिंता और हमारी बेफिक्र - सुरेन्द्र कुमार महामारी को भुनाते मानवता के दुश्मन - डा. राजेन्द्र प्रसाद शर्मा भाजपा की महत्वाकांक्षाओं को बड़ा झटका - योगेश कुमार गोयल ऑफ़लाइन शिक्षा से वर्चुअल सीखने के लिए लेकिन कक्षा के लिए कोई प्रतिस्थापन नहीं - विजय गर्ग वैक्सीनेशन का विस्तार, कोरोना पर प्रहार - सुरेन्द्र कुमार स्वतंत्र लेखक न्याय और समानता पर आधारित व्यवस्था के लिए अथक संघर्ष करने वाले युगपुरूष डॉ. आंबेडकर - अरुण कुमार कैहरबा नौकरी करते हुए प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी कैसे करें - विजय गर्ग कैच द रेन: वर्षा जल सहेजने के लिए संजीदगी जरूरी, समय रहते समझें पानी की महत्ता - योगेश कुमार गोयल नाचो-गाओ, खुशियां मनाओ कि आई बैसाखी - योगेश कुमार गोयल तृणमूल कांग्रेस बनाम निर्वाचन आयोग अक्षय राम सेतु के लिए चले अयोध्या विनेश फिर बनी दुनिया की नंबर एक महिला पहलवान - योगेश कुमार गोयल बजट से अर्थव्यवस्था को मिलेगी मजबूती - मयंक मिश्रा कोविड वैक्सीन: भारतीयों को अपने वैज्ञानिकों पर सबसे ज्यादा भरोसा, टीकाकरण में दुनिया की सबसे बड़ी ताकत बना भारत - योगेश कुमार गोयल भारत की स्वास्थ्य सेवा नीति: महामारी के अलावा - अबिनाश दास केंद्रीय बजट 2021-22: आत्मविश्वास के साथ रणनीति में बदलाव - तरुण बजाज जल जीवन मिशन : पानी के जरिये एक सामाजिक क्रांति - रतन लाल कटारिया एक सपनों का बजट, जो कोविड के बाद की अवधि में न केवल तत्कालरिकवरी के लिए, बल्कि दशक के दौरान उच्च विकासके लिए भी मार्ग प्रशस्त करता है - डॉ केवी सुब्रमण्यन शासन का सबसे उत्पीडित अंग - डॉ0 एस. सरस्वती रोगों का नाश करती है शरद पूर्णिमा - बाल मुकुन्द ओझा धारा 370 का निराकरण : नियति के साथ वास्तविक साक्षात्कार चुनावों में गालियों का प्रयोग : जितने कडवे बोल उतना अच्छा - पूनम आई कौशिश बिहार चुनाव: बीच विमर्श में पाकिस्तान ? - निर्मल रानी